कानूनी जानकारी वीडियो देखे

lawyerguruji

तहसील से खतौनी की नकल कैसे प्राप्त करे

www.lawyerguruji.com

नमस्कार मित्रों,
आज के इस लेख में आप सभी को " तहसील से खतौनी की नकल कैसे प्राप्त करे" इसके बारे में सम्पूर्ण जानकारी देने वाला हु। 

तहसील से खतौनी की नकल प्राप्त करने के लिए आवेदकों / प्रार्थी को स्वयं अपने जनपद की तहसील में लेखपाल के पास जाना होगा। 

कई ऐसे कार्य होते है जिनमे प्रमाणित खतौनी की मांग की जाती है। तहसील में लेखपाल आपके द्वारा दाखिल किये गए आवेदन पत्र में लिखे गए जमीन के विविरण के अनुसार आपको प्रमाणित खतौनी प्रदान करता है। यहाँ प्रमाणित से आशय खतौनी में लेखपाल के हस्ताक्षर और मुहर लगी होती है।  

लेख के मुख्य विषय के बारे में जानने से पहले इसी से सम्बंधित मुख्य बिंदुओं को जान ले जैसे कि :-

खतौनी की नकल लेने से पहले इन जानकारी को एकत्रित कर ले ताकि कोई परेशानी न हो। 
जिस जमीन की खतौनी की नकल आप चाह रहे है उस जमीन से सम्बंधित विवरण जैसे कि :-
  1. खातेदार का नाम,
  2. पिता का नाम,
  3. ग्राम का नाम,
  4. खाता संख्या,
  5. गाटा संख्या। 
land record  तहसील से खतौनी की नकल कैसे प्राप्त करे

तहसील से खतौनी की नकल कैसे प्राप्त करे स्टेप बाय स्टेप सम्पूर्ण जानकारी। 

1. ऑफलाइन प्रक्रिया -
तहसील से खतौनी की नकल प्राप्त करने के लिए आवेदक / प्रार्थी को स्वयं अपने जनपद की तहसील जाना होगा और वहाँ से खतौनी की नकल प्राप्त किये जाने वेले आवेदन पत्र को लेना होगा। यह आवेदन पत्र कुछ ऐसा होगा। 

land record  तहसील से खतौनी की नकल कैसे प्राप्त करे

2. खतौनी नकल आवेदन पत्र भरे। 
 तहसील से खतौनी नकल आवेदन पत्र लेकर उसमे मांगी गयी जानकारी को ध्यान से स्पष्ट रूप से साफ -साफ भरे जैसे कि:-
  1. नाम खातेदार,
  2. पिता का नाम,
  3. नाम ग्राम,
  4. खाता संख्या,
  5. गाटा संख्या,
यह सब विवरण लिखने के बाद हस्ताक्षर वाले स्थान पर आवेदक / प्रार्थी अपने हस्ताक्षर करे। 

3. आवेदन पत्र कार्यालय में जमा करे।  
खतौनी नकल आवेदन पत्र लेखपाल के कार्यालय में जमा करे वैसे हर तहसील में खतौनी नकल प्रदान करने के लिए इनके कंप्यूटर कक्ष होते है और उसके बताये गए समय में खतौनी नकल प्राप्त करे। साधारणतः खतौनी की नकल 5 से 10 मिनट के भीतर तुरंत मिल जाती है 

खतौनी में क्या क्या विवरण लिखा होता है। 
  1. ग्राम का नाम,
  2. परगना,
  3. तहसील,
  4. जनपद,
  5. फसली वर्ष,
  6. खाता संख्या,
  7. खातेदार का नाम - भूमि जो संक्रमणीय भूमिधरों ले अधिकार में हो।,
  8.  खसरा संख्या,
  9. क्षेत्र फल,
  10. आदेश यदि कोई हो,
  11. टिपण्णी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

lawyer guruji ब्लॉग में आने के लिए और यहाँ पर दिए गए लेख को पढ़ने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपके मन किसी भी प्रकार उचित सवाल है जिसका आप जवाब जानना चाह रहे है, तो यह आप कमेंट बॉक्स में लिख कर पूछ सकते है।

नोट:- लिंक, यूआरएल और आदि साझा करने के लिए ही टिप्पणी न करें।

Blogger द्वारा संचालित.