सोशल मीडिया अपराध और इनकी रोकथाम के लिए उपाय। Social media crimes and preventive measures

www.lawyerguruji.com

नमस्कार दोस्तों,
आज का यह पोस्ट सभी लोगो के लिए खास है, खास इसलिए कह रहा हु की आज के इस पोस्ट में आप  सभी को सोशल मीडिया से सम्बंधित अपराधों और रोकथाम के लिए उपाय बताने जा रहा हु।  क्योकि आज के इस युग में हर एक उम्र का व्यक्ति सोशल मीडिया  Facebook, Instagram, Twitter और LinkedIn  जैसी अन्य सोशल मीडिया साइट  से जुड़े  हुए है। इन सोशल साइट का इस्तेमाल करने से पहले यूजर को अपने नाम पर एक एकाउंट बनाना होता है, पर कई लोग तो अपने नाम का ही एकाउंट  बनाते है, पर कई लोग किसी और के नाम का सहारा लेकर फेक (fake) एकाउंट बनाते है, और कई तरह के अपराधों को अंजाम देते है।

तो, चलिए जानते है, की इन सोशल मीडिया अपराध के बारे में और इनकी रोकथाम के बारे में।
सोशल मीडिया अपराध और इनकी रोकथाम के लिए उपाय।  Social media crimes  and Preventive measures.

सोशल मीडिया अपराध  Social media crimes 


1. फेक ऑनलाइन दोस्ती : सोशल मीडिया पर होने वाले अपराधों में से एक फेक ऑनलाइन दोस्ती  अपराध भी शामिल है।  इसमें अपराधी फेक अकाउंट के जरिये से लोगो को friend request भेजते है और मैसेज भी भेजते है। ऐसे अपराधों को अंजाम देने वाले ज्यादातर लड़के होते है, जो की लड़कियों के नाम पर फेक अकाउंट बना कर लड़को या बुजुर्गो को शिकार बनाते है। ऐसे अपराधों को अंजाम देने में लड़किया भी  शामिल होती है।  

2. फेक प्रोफाइल अकाउंट: सोशल मीडिया में सबसे ज्यादा होने वाले अपराधों की संख्या में फेक प्रोफाइल अकाउंट भी शामिल है, कुछ लोग किसी अन्य व्यक्ति के नाम और उसकी तस्वीरों का इस्तेमाल करके उसके नाम पर फेक अकाउंट बना लेते है।  इस तरह के अपराध के पीछे लोगो की मानसिकता दूसरे लोगो को बदनाम करना या इन फेक अकाउंट के जरिये किसी अन्य को अश्लील मैसेज भेजना, परेशान करना, ब्लैकमेल करना अदि।  
  
3. अवैध सामग्री की खरीदारी : सोशल मीडिया पर होने वाले अपराधों में से एक अवैध सामग्री की खरीदारी , यह एक इतना बड़ा प्लेटफार्म है जहाँ  लोगो की संख्या अरबों में होती है, सोशल मीडिया साइट का इस्तेमाल करने वाले लोग पूरी दुनिया में है, पर इन्ही सोशल मीडिया के जरिये अवैध सामग्री की खरीदारी जैसे अपराध भी किये जाते है। 

4.  हैकिंग : सोशल मीडिया पर होने वाले अपराधों में एक अपराध हैकिंग और धोखाधड़ी भी है, जिसमे साइबर हैकर आपके अकाउंट को हैक कर अपराधों को अंजाम देते है , आपके अकाउंट से आपके मित्रो, रिस्तेदारो और सगे सम्बन्धियों या किसी अन्य व्यक्तियों को अश्लील मैसेज भेज सकते है। 
एक बार अकाउंट हैक हो जाने पे अकाउंट पर पूरा नियंत्रण हैकर्स का होता है, वे जिस तरह से चाहे आपके अकाउंट का इस्तेमाल करते है। 


5.  ऑनलाइन धमकी , पीछा करना और साइबर बुलइंग : सोशल मीडिया पर होने वाले सबसे अधिक अपराधों की संख्या ऑनलाइन धमकी , ऑनलाइन किसी का पीछा करने से मतलब यह की किसी अनजान व्यक्ति को लगातार मैसेज भेजते रहना या किसी से बदले की भावना रखते हुए उसको परेशान करना।  किसी महिला की बदनामी करना, किसी महिला को उसकी निजी जानकरियों के आधार पर ब्लैकमेल करना 
ऐसी ही कई अपराध है , पर इन अपराधों की शिकायत करने पर आप लोग डरते है। लेकिन मेरी यही सलाह है की यदि आपको धमकी भरे फ़ोन या मैसेज आते है, तो आप इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दे और जो मैसेज आया है उसको सबूत के आधार  पर सुरक्षित रखे.                                                                                                                     
रोकथाम के लिए उपाय  Preventive measures


1. अपने सोशल अकाउंट की प्रोफाइल को पब्लिक सर्च पर ब्लॉक रखे, ताकि कोई अन्य अंजान  व्यक्ति आपकी प्रोफाइल को सोशल मीडिया जिसमे आपका अकाउंट हो वहा  पर आपके प्रोफाइल को सर्च न कर सके , 

2. अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर प्राइवेसी लगाए , ताकि आपकी निजी जानकारी के बारे अंजान  लोगो को जानकारी न हो सके,

3. प्राइवेसी लगा के रखे की आपको कौन सोशल मीडिया पर केवल आपको जानने वाले ही सर्च कर सके,

4. जब जब आप पाने सोशल मीडिया अकाउंट पर लॉगिन करे तब तब उसको लोग आउट जरूर करे , 

5. सोशल मीडिया पर अंजान लोगो की आयी हुई friend request को कभी भी accept  न करे।  

6. सोशल मीडिया अपर कभी भी अपनी निजी जानकरियों को लोगो से शेयर न करे या ऐसी कोई भी जानकारी सोशल मीडिया अकाउंट कर डाले जो की आपकी निजी जानकारी से सम्बंधित हो, 

7. सोशल मीडिया अकाउंट पर अपने बैंक से सम्बंधित जानकारी को किसी के साथ शेयर न करे,

8. सोशल मीडिया पर यदि आपको धमकी , ब्लैकमेलिंग या अन्य प्रकार से प्रताड़ित किया जाता है, तो इसकी सूचना तुरंत अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन में दे और प्रथम सूचना रिपोर्ट लिखवाये।  
सोशल मीडिया अपराध और इनकी रोकथाम के लिए उपाय। Social media crimes and preventive measures सोशल मीडिया अपराध और इनकी रोकथाम के लिए उपाय।  Social media crimes  and preventive measures Reviewed by Advocate Pushpesh Bajpayee on June 10, 2018 Rating: 5

No comments:

lawyer guruji ब्लॉग में आने के लिए और यहाँ पर दिए गए लेख को पढ़ने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपके मन किसी भी प्रकार उचित सवाल है जिसका आप जवाब जानना चाह रहे है, तो यह आप कमेंट बॉक्स में लिख कर पूछ सकते है।

नोट:- लिंक, यूआरएल और आदि साझा करने के लिए ही टिप्पणी न करें।

Powered by Blogger.