lawyerguruji

किरायेदारी कानून 2019 के तहत मकानमालिक और किरायेदार के अधिकार landlord and tenants right under tenancy law 2019

www.lawyerguruji.com

नमस्कार दोसतों,
आज का यह लेख खासकर मकानमालिक और किरायेदारों के लिए है, क्योकि आज के इस लेख में आप सभी को किरायेदारी कानून 2019 के तहत मकानमालिक और किरायेदार के अधिकार। 


 किरायेदारी कानून 2019 के तहत मकानमालिक और किरायेदार के अधिकार। landlord and tenants right under tenancy law 2019.

मकानमालिक और किरायेदार के मध्य उनके आपसी सम्बन्ध को अच्छा बनाए रखने के लिए केंद्र सरकार ने किरायेदारी के लिए नए कानून का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है, जो की मंजूरी मिलते है पारित कर दिया जायेगा। इस कानून के लागु होने से मकानमालिक और किरायेदार के मध्य होने वाले (छोटे मोटे) झगड़ो को निपटाने का पूर्ण प्रयास किया गया है। इस कानून के आ जाने से मकानमालिक और किरायेदार के हितों की रक्षा भी होती रहेगी। यदि आप किरायेदार या मकानमालिक है, तो आपको इन झगड़ो को जानते होंगे कि कैसे होते है में आपको कुछ बता देता है :-
  1. किराये में बढ़ोत्तरी को लेकर अक्सर जगड़े होते है,
  2. मकान को मरम्मत को लेकर,
  3. बिजली व्यवस्था को लेकर,
  4. पानी को लेकर,
  5. अन्य। 
अब ऐसे ही झगड़ो के निपटारे के लिए हर एक राज्य और केंद्रीय शासित प्रदेशों में स्पेशल रेंट कोर्ट अथवा रेंट ट्रिब्यूनल को स्थापित किया जायेगा। मकानमालिक और किरायेदार के मध्य होने वाले झगड़ो का निपटारा स्पेशल रेंट कोर्ट या रेंट ट्रिब्यूनल के द्वारा  60 दिनों के भीतर किया जायेगा।  
 इससे पहले मकानमालिक और किरायेदार के मध्य होने वाले झगड़ो के निपटारे के लिए सिविल कोर्ट जाना पड़ता था लेकिन अब मकानमालिक और किरायेदार के मध्य होने वाले झगड़ो का निपटारा स्पेशल रेंट कोर्ट या रेंट ट्रिब्यूनल द्वारा होगा।

द मॉडल टेनेंसी एक्ट ,2019 क्या है। 
द मॉडल टेनेंसी एक्ट ,2019 किरायेदारी कानून से सम्बंधित है, जिसमे किरायेदारी को नियंत्रित करने के लिए नियमों का प्रावधान किया गया है। ऐसा इसलिए ताकि मकानमालिक और किरायेदार के मध्य उनके आपसी रिश्तों को बनाये रखना है। अक्सर किरायेदार और मकानमालिक के मध्य आपस में मकान को लेकर छोटे मोटे झगडे हुआ करते। अब ऐसे होने वाले झगड़ो के निपटारे के लिए इस अधिनियम में विशेष प्रावधान किये गए है।
  1. मकानमालिक और किरायेदार के मध्य किराये के मकान में रहने के लिए रेंट एग्रीमेंट होता है, जिसमे मकान से सम्बंधित विवरण लिखे होते है, जिसमे दोनों की अपनी इच्छा होती है। अब इस रेंट एग्रीमेंट की एक कॉपी जिला किराया प्राधिकरण को देनी होगी। 
  2. जिला किराया प्राधिकरण के पास मकानमालिक या किरायेदार के द्वारा अनुरोध करने पर किराये की जाँच या उसे तय करने की शक्तियां होंगी। 
  3. जिला किराया प्राधिकरण को मासिक किराया और किराये की अवधि की जानकारी देनी होगी। 
  4. राज्यों और केंद्रीय शासित प्रदेशों को स्पेशल रेंट कोर्ट अथवा रेंट ट्रिब्यूनल स्थापित करना होगा। 
  5. मकानमालिक और किरायेदार के मध्य होने वाले विवादों के निपटारे के लिए दोनों पक्षों को स्पेशल रेंट कोर्ट या रेंट ट्रिब्यूनल के पास जाना होगा। 
  6. मकानमालिक और किरायेदार के मध्य हुए विवाद का निपटारा 60 दिनों के भीतर कर दिया जायेगा। 
  7. मकानमालिक  किरायेदार से मकान खाली कराने को लेकर बिजली, पानी व् अन्य जरुरी सुविधाएं बाधित नहीं करेंगे। 
मकानमालिक और किरायेदार के अधिकार और जिम्मेदारियां क्या होंगी। 

मकानमालिक के अधिकार। 
जब भी कोई मकानमालिक अपना मकान या दूकान किराये पर किसी व्यक्ति को देता है, जो उस मकान या दुकान के स्वामी के अधिकार कुछ इस प्रकार के होंगे :-
  1. रेंट एग्रीमेंट के समाप्त हो जाने के बाद भी यदि मकानमालिक के कहने पर भी किरायेदार मकान खाली नहीं कर रहा है ,तो ऐसे में मकानमालिक 4 गुना तक मासिक किराया मांगने का पूर्ण अधिकार होगा। 
  2. यदि किरायेदार रेंट एग्रीमेंट के तहत निर्धारित समय सीमा के भीतर मकान या दुकान खाली नहीं करता ,तो ऐसे में मकान या दुकान के मालिक द्वारा अगले 2 महीने तक के किराये की मांग की जा सकेगी और 2 महीने के बाद 4 गुना तक किराया वसूलने का पूर्ण अधिकार होगा। 
  3. यदि मकान के ढांचे में मकानमालिक के द्वारा कोई सुधार किया जाता है, तो ऐसे नवीकरण के बाद 1 महीने के बाद किराया बढ़ाने का अधिकार होगा, लेकिन इसके लिए किरायेदार की सलाह भी ली जाएगी।
  4. यदि किरयेदार द्वारा किराये के मकान का इस्तेमाल किसी गलत कार्य के लिए किया जा रहा है. तो ऐसे में किरायेदार को मकान से निकालने का अधिकार मकानमालिक को होगा। 
मकानमालिक की जिम्मेदारियां। 
  1. यदि मकानमालिक द्वारा किराये पर दिए गए मकान का किराया बढ़ाना चाहता है, तो ऐसे में मकानमालिक को 3 महीने पहले किरायेदार को सूचना नोटिस देकर देनी होगी। 
  2. जिस मकान को मकानमालिक ने किराये पर दिया उसकी देखभाल की जिम्मेदारी मकानमालिक की होगी। 
  3. मकानमालिक द्वारा मकान के मुआयने, नवीरकण, मरम्मत या अन्य किसी काम के लिए आने से पहले 24 घंटे का लिखित नोटिस पहले देनी होगी। 
किरायेदार के अधिकार। 
  1. मकानमालिक रेंट एग्रीमेंट के बीच किराया नहीं बढ़ायेगा। 
  2. मकानमालिक किराये पर मकान देते समय सुरक्षा राशि 2 महीने के किराये से अधिक नहीं मांग सकता।
  3. मकानमालिक और किरायेदार के मध्य किसी बात को लेकर कोई वाद-विवाद होता है, तो मकान मालिक किराये के मकान जहाँ किरायेदार रह रहे है उस मकान  की बिजली, पानी जैसे जरुरी सुविधाएं नहीं रोकेंगे। 
  4. रेंट एग्रीमेंट में लिखित समय सीमा से पहले मकानमालिक किरायेदार को तब तक नहीं निकाल सकेगा, जब उसने लगातार 2 महीने तक का किराया नहीं दिया हो। 
किरायेदार की जिम्मेदारियां। 
  1. किराये पर रह रहे व्यक्ति के द्वारा उस किराये के मकान को किसी दूसरे व्यक्ति को किराये पर या किसी अन्य काम के लिए नहीं दिया जायेगा। 
  2. किरायेदार जिस मकान का उपयोग कर रहे है, उसकी सुरक्षा और अच्छे से देखभाल करने की जिम्मेदारी किरायेदार की होगी। 
  3. किरायेदार के द्वारा मकान में किसी भी प्रकार का कोई भी नुकसान नहीं किया जायेगा, यदि किसी उचित कारण से ऐसा होता भी है तो ऐसे में मकानमालिक को इस नुकसान की सूचना देनी होगी।  
किरायेदारी कानून 2019 के तहत मकानमालिक और किरायेदार के अधिकार landlord and tenants right under tenancy law 2019  किरायेदारी कानून 2019 के तहत मकानमालिक और किरायेदार के अधिकार landlord and tenants right under tenancy law 2019 Reviewed by Advocate Pushpesh Bajpayee on July 14, 2019 Rating: 5

54 comments:

  1. hamne ek property kharidi hai jisme kuch dukane kiraye par hai jiska kiraya nahi diya gaya hai kya hum ukt dukan ko khali kara sakte hai

    ReplyDelete
    Replies
    1. किराया वसूली व दुकान ख़ाली करवाने के लिए एक नोटिस भेजें।

      Delete
  2. YADI,kiryedar agreement se phele,room,khali karna,chaye toh,,use,security fees vapish milegi,ya,nhi

    ReplyDelete
    Replies
    1. हमने अपना मकान सितम्बर 2019 मे किराये पर दिया था, तभी से मै अपने आफिस के ठीक पास एक किराये के एक मकान में रह रहा हूं। परन्तु किराये इस मकान में हमारे बच्चे को बार-बार इनफैक्शन होने के डाक्टर ने मकान बदलने को कहा है। इस कारण हमे अपना मकान किरादार से खाली कराने का क्या तरीका है, कृपया उचित सलाह लेने का कष्ट करें।

      Delete
  3. meri mata ji ne ek dukan kiraye pr di.na ko agriment na koi raseed.sirf oral,us kirayedar ne nagar nigam ke assesment register ke kirayedari ke colum me khud ko kirayedar show kra liya,jab meri mata ji ko iska pta chala to unhone nigam main application di.ye mera kirayedar nhi h ise kirayedari ke colum se kharij kiya jaye,or wahan pr ye kharij ho jata h,dukan pr ye bhetha hua h kiraya bhi nhi de rha h,or dukan pr electric meeter bhi nhi h ye jugad se light jalata h,mata ji isse dukan khali karana chahti h,kya karna chahiye, dukan ki zaroort h,is ke pass area main or bhi dukane h

    ReplyDelete
  4. Mene apna kiraye ka makan 22 fab 2020 ko khalikar diya hai, lekin makanmalik ne meri 2 month advacne amount mein se 8700/- rs apne paas jama kar rakhe hai, aur dene ka naam nahi le rahe, mujhe kya karna chahiye

    ReplyDelete
    Replies
    1. रेंट अग्रीमेंट हुआ था ?

      Delete
    2. Maine 11 mahine ke agreement par makaan kiraye par Diya that 1mahine ka advance dene ke baad kirayedaar me 10 mahinon se kiraya nahin diya Kya kiya jaae

      Delete
  5. Hum 40 saal se ek dukan me kirayedar hai.dukanmalik ne ye dukan bech di.naye Malik ko kireya bhejne per unhone Bapis kar diya aur dukan ko girvan lage bina notice diye.court me case kiya to hamare parish me order diya ki bina kanuni prkiya ke bedhakhal na kiya jaye case jitne kebaad dubara daak se kiraya bheja lane se unhone mana kar diya 3 saal baad bina notice diya dubara dukan ko chatigrast kiya court abhi band hai hum kya kar skate hai

    ReplyDelete
  6. पुलिस को इस घटना की जानकारी दे और साथ मे न्यायालय के आदेश की एक फ़ोटो प्रति भी साथ मे दे, जिसमें आपके पक्ष में कहाँ गया है।

    ReplyDelete
    Replies
    1. Hum yah kar chuke hai lekin police koi karyawahi nahi kar rahi hai aur kah rahe hai.dukaan ke bagel me gahre khade kar diye hai taki dukan khud hi gir jaye.

      Delete
  7. Sir hamne ek shop rent prr liya h use book hamne 1st march 2020 ko kiya tha.. But waha opening 18th march 2020 ko kiya to hamara rent pay karne ki date kya hongi.... Means saman hamne 18 ko shift kiya.... Aur us k 2 din bad lockdown ho gya to kya lockdown ka bhi rent hamko dena padega kya

    ReplyDelete
    Replies
    1. तनु जी, जिस दिन से आपके और दुकान मालिक के बीच दुकान को लेकर रेंट एग्रीमंट हुआ था, किराए की अवधि उसी दिन से शुरू हो जाएगी ।

      Delete
    2. Rent agreement ab bana hi nhi h unhone bola jis din ap saman shift karoge us din rent agreement bana lenge bit agle din se hi lockdown start ho chuka h

      Delete
  8. Lockdown ka bhi rent pay karna h ya nhi actually news me koi balta h rent dena h koi kahta h nhi dena h... Rent lene prr 2 sal ki saja h... Samz nhi aa raha h

    ReplyDelete
  9. रेंट के संबंध मे आपने अपने दुकान मालिक से बात की ?

    ReplyDelete
    Replies
    1. ji Ha unka kahna h ki muze lockdown ka bhi rent pay karana hoga nhi... Wo samzne ko ready hi nhi h agr shop kuch mahine chalti to mai unhe rent jarur deti but ek hi din shop open kiya tha maine mai utna rent nhi de sakti hu to muze kya karana chahiye...

      Delete
    2. Same problem but as a student.

      Delete
  10. Tay seema ke baad bhi kiraye makaan khali na kare

    ReplyDelete
  11. Hello mene September 2019 mai ek jagah makan kiraye pr liya tha lakin wo makan malik ka kutta bar bar kat ta hai muje mere bar bar kahne k bad bhi wo apne kutte ko ghr k main gate m bandhte hai sun ni rhe hai or roj koi na koi bat ko laker pareshn krrhe hai mai bhut tntion mai ajati hu mai akli rhti hu mere hudband bhar rhte hai aise mai kya kru

    ReplyDelete
    Replies
    1. आप इस सब की शिकायत पुलिस को कर दे ।

      Delete
  12. मेरे दादाजी ने 45 साल पहले एक दुकान किराये पर ली थी । आज मैं यानी उनका पोता उस दुकान में रोजगार कर रहे है। इस दुकान में उस समय से बिजली का कनेक्शन नही है ।आज भी हम बिना बिजली के गर्मी में रोजगार कर रहे है। दुकान भी जर्जर हो गई है। दुकान मालिक ने ना तो बिजली दे रखी है और ना ही मरमत करवा रहा है। प्लीज बताये क्या किया जाए।।।

    ReplyDelete
  13. Hmne kirayedar se 3 sal se kiraya nhi liya kyuki uke pass pesa nhi tha.... Vo students the.... Unki madad ki unko hmne pesa diya pdhayi ke liye..... Ab unki job lag gayi hi.... Ab vo na too kiraye ka pesa de rhe h na hi.... Nahi vo wala pesa de rhe h jo hmne unki madad ki..... Lekin vo hmare relation me aate hii ab hmm kya kere unse pase nikelwane ki liye..... Konsa act lgaye sir Btayiye plz 😥😥

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपने उनकी मदद अपनी मर्जी से की क्या उन्होने से आपसे पैसा मांगा इसका कोई सबूत है ।

      Delete
  14. Sir hamre makkan malik bahu hai vo bhut preshan Krti hai Kabhi bolti hai yhaa se carry bag mat latkao mere plant kharab ho Jaye ge Kabhi motor ke liye bolti hai or unke makaan ki diwaro kaa khud hee mitti gir rhi hai toh USS par bolne aa jati hai ki mitti Gira rhe ho ap or vo sab ko Esse hee preshan Krti hai or jdaa bolo toh bolti hai okaat mai rho APNI

    ReplyDelete
  15. Sir hmara makaan malik 8rs.per reading bijali ka bill leta jai jabki Delhi m abhii hamara bill Bhii nhii aa raha kya karein?? Abhi lockdown mein toh kiraya dene tak k liye nhii please batao kya karein koi solution hai kyunki landlord pressure de raha hai Bijli bill nhii dikha raha

    ReplyDelete
  16. M up sector 66 se hu hmare room meek lady kiraye dar aakr rhi ush tym uska husbnd bhi sath tha agle 4 dinb vo bolti h uskad divorce chl rha h m rent kha se du ab 4 month ka kiraya nhi diye h usne jbsi rhi h. Na room khali kr rhi h na rent de rhi... Room se bahr he nhi niklti agr hm kuch bolte h to police valo ko bula leti h k ye mujhe preshan kr rhe h... Police vale b kuch nhi bolte k lockdwn h ye kha jayegi ab. Kya kre

    ReplyDelete
  17. Sir Meri ek shop hai Jo mere father ne mere uncle ko rent par di thi Bina Kisi agreement ke vo bahut minimum kiraya dete hai lekin ab mujhe us shop ki jaroorat hai unse shop khali Karne ko keh rahe to vo khali Nahi kar rahe main shop khali karane ke liye kya legal action le Sakta ?

    ReplyDelete
    Replies
    1. दुकान खाली करने का एक लीगल नोटिस भेज दे ।

      Delete
  18. Humara 25 years old kirayadar h. Khali krane k liye court case chal rha h but kiraydar ne kud se house tax bharkar usko apne nam kra liya h.makan meri dadi Ji k nam p h aur unka dehant ho chuka h... please suggest kare...kya next step ke skte h.. lawyer bhi next next date lete h...5 saal ho chuke h case ko.

    ReplyDelete
    Replies
    1. अपने वकील से बात करो ।

      Delete
  19. Me ek student hu or me room lekar rhta hu. Covid-19 ke reason se me room 20 march se band pda hai. or mene 31 march 2020 tk ka rent pay kiya hua hai or 31 march ke bad lockdown ke reason se me room pr 3 mahino se nhi gya hu. or na hi vha pr rha hu.to mere ko rent dena chahiye kya . Mene makan malik se bat ki thi ki me room rent 50% hi pay kr skta hu but vo usme bhi nhi man rhe hai. Or FIR ki dhamku de rhe hai. Then what can i do???

    ReplyDelete
  20. Sir..
    Hm teen frnd h hm company me job krte h hmne ek biluding me room rent pr le rha tha covid-19 ki reason se 22 march ko room se night ki train se nikal aaye the sir uske bad hm covid-19 ke reason se 3 mahino se room pr nhi ja paye or es bich hmare or makan malik ke bich contact number nhi hone ki reason se kisi bhi trh ka koe contact me nhi rhe tha 3 mahine bad jb makan malik se hmara 28 jun ko contact hua to makan malik ne bola mne apka room ka lock tod diya h or jo saman tha safae krne balo ko diya h sir us room mera phone or important Document jb call kr puch rhe to hme kuch bta nhi rha h bar bar ek bat bol rha h mne tumara saman safai balo ko de diya h hm uska room rent bhi dene ko ready h sir plzzz help me hme aapke guide ki jarurat hai

    ReplyDelete
    Replies
    1. पूरी घटना बताते हुये थाने मे एक एफ़आईआर दर्ज करा दो।

      Delete
  21. Sir mai kolkata me rahtahu maine apna dukan ek aadmi ko bhara me diya agriment ka sath par egriment khatam hone k baad maine khali karne ko kaha par wo bolta tha 3 mahina time de do 6 mahina time dedo mai khali kardunga aese aur dukan ko band rakhta hai kavi kavi kholta hai aeasa karte karte agriment khatam hone k baad 29 monthse rahraha hai. Mujhe uss dukan ki jarurat hai mai apna kuchh karna chata hu plz help me mai kya karu

    ReplyDelete
    Replies
    1. सबसे पहले पुलिस मे शिकायत करे ।
      फिर भी कोई काम न बने तो आप अपने जिले के किसी अधिवक्ता से संपर्क कर उसको दुकान खाली करने के लिए एक लीगल नोटिस भेजे ।

      Delete
    2. Sir wo mere dukan me kapda ka gowdaun banakar rakha hai kavi kholta hai kuchder k liye aur kafi samay band hi rakhta hai to mai kya uske tala k uper apna tala maar sakta hu ya uska tala todkar uska maal bahr rakh sakta hu k nhe.agr maine aesa kiya to kya wo mujhpar chori ka ilzam laga sakta hai.jabki agrment v samapat hogya hai aur kirya ka rashid v maine nhe diya hai.last time jab maine kaha dukan khali kardo apna saman hatalo to bola aapka himat hai to khali karwalo. Ab aap bataiye sir mai kya karu plz help me

      Delete
    3. Aur sir mai ek cricketar hu aaj tak kavi aesa jhamela me nhe pada aur lockdown k wajah se koi incone nhe hai mere upar mere 2 ladki aur ek ladka aur maa ka jimedari v hai plz sir help me🙏

      Delete
    4. आप किस राज्य से खेलते है?

      Delete
    5. Bengal. Avi mai a divsion khelta hu aur cricket coach v hu

      Delete
  22. Sir mera landlord pani ki motor repair karane ka Paisa hamse mangta hai.. kiya hame dena chahiye

    ReplyDelete
    Replies
    1. माकान किराए पर लेते समय अग्रीमेंट हुआ है ?

      Delete
  23. SIR,NAMSTE
    SIR MAINE EK GHAR KIRAYE PER LE RAKHA HAI JO ADITYAPUR THANA KE ANTARGAT ATA HAI.MAINE ISH GHAR ME 16-02-2020 SE APANE PARIWAR KE SATH RAH RAHA HU. SURUWAT ME TO SAB THIK THA PER ABHI KUCHH DINO SE MERA MAKAN MALIK SE KAPRA SUKHANE KE SAMBANDH ME KUCHH VIVAD HUA THA,TAB SE HI WO HAME PARESAN KAR RAHA HAI, JAISE KI - WO MERA BIJLI AUR PANI KABHI KABHI BAND KAR DETA HAI,TO ANEJANE ME ROK LAGA DETA HAI,GHAR KA DOOR KO BAHAR SE BAND KAR DETA HAI,BAHAR KAPRA NAHI SUKHANE DETA HAI....AUR BHI BAHUT KUCHH. JAB HUM ISHKE BARE ME KUCHH BAAT KARNE KA KOSHIS KARTEN HAI TO HAME DHAMKI DETA HAI KI MAIN POLICE HU MAIN JO BOLUNGA WOHI HOGA,AB AAP HI BATAIYE KI MUJHE KYA KARNI CHAHIYE, MERA BHI MAKAN BAN RAHA HAI JO DO YA TEEN MAHINE ME BAN KAR TAIYAR HO JAYEGA , PER UTNA DIN TAK HUM KANOONI TAUR PER KAISE RAHEN ISH GHAR ME... PLEASE KUCHH SALAH DIJIYE. KISHI PRAKAR KA RENT AGREEMENT BHI NAHI BANANE DETA HAI AUR RENT BHI CASH ME HAI LETA HAI KAHI SIGNATURE BHI NAHI KARTA HAI..

    ReplyDelete
    Replies
    1. थाने मे एक लिखित शिकायत दे दो ।

      Delete
  24. मैंने अपना मकान दो साल पहले किराये पर दिया था परन्तु रेन्ट एग्रीमेंन्ट नहीं बनवाया था अब वह लॉकडाउन के दौरान 5 महीने से किराया भी नहीं दे रहा है। अब मैं उसे रवाली कराना चाहता हूँ।मुझे क्या करना होगा?

    ReplyDelete
    Replies
    1. किराया क्यो नहीं दे पा रहा है उससे कारण पूछो।

      Delete
  25. sir mene or mera dost ne ek room rent p liya tha march ka rent humne pay kiya hua ha ouske badd covid -19 reason se hum room per nahi gayi lekin hmara saman wahi per ha mene apne dost ko rent dena ke liye bola to ousne mana kardiya me apna rent landlord ko dena ko ready hu but landlord dono ko poora rent dena ka liye bolra ha me kya karu kirpya salah de

    ReplyDelete
    Replies
    1. रेंट अग्रीमेंट हुआ था ?

      Delete
  26. मै ने तीन वर्ष के लिये इंडस्ट्रियल प्रॉपर्टी नॉएडा में 100 रुपए के स्टाम्प पर अग्रीमेंट कर किरया पर दिया लेकिन अब आगे नही लगाना चाह्ता हू वह चाह्ता है खाली नही करना क्या करें किस तरह का अग्रीमेंट करना मेरे हक में ठीक होगा भविस्य के लिये।

    ReplyDelete
    Replies
    1. यदि आप अपनी संपत्ति उस किरायेदार से खाली करवाना चाहते है तो एक लिखित नोटिस दे कर खाली करवा ले ।

      Delete

lawyer guruji ब्लॉग में आने के लिए और यहाँ पर दिए गए लेख को पढ़ने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपके मन किसी भी प्रकार उचित सवाल है जिसका आप जवाब जानना चाह रहे है, तो यह आप कमेंट बॉक्स में लिख कर पूछ सकते है।

नोट:- लिंक, यूआरएल और आदि साझा करने के लिए ही टिप्पणी न करें।

Powered by Blogger.