इन्स्योरेन्स फ्रॉड क्या है और इंसोरेन्स फ्रॉड से कैसे बचे।

www.lawyerguruji.com

नमस्कार दोस्तों,
आज के इस पोस्ट में आप को बिमा जालसाजी ( Insurance fraud ) के बारे में बताने जा रहा हु।  आप लोगो ने साइबर धोका धड़ी के बारे में तो सुना होगा और कई साइबर अपरधो के बारे में भी जैसे:-
  1. फेक फ़ोन काल,
  2. आधार कार्ड वेरिफिकेशन,
  3. डेबिट कार्ड फ्रॉड,
  4. क्रेडिट कार्ड फ्रॉड,
  5. इंटरनेट बैंकिंग फ्रॉड,
  6. ईमेल,
  7. हैकिंग,
  8. ऑनलाइन शॉपिंग धोखा धड़ी,
  9. सोशल नेटवर्किंग साइट,
  10. इन्ही में से एक इंश्योरेंस  फ्रॉड।  
इन्स्योरेन्स फ्रॉड क्या है और इंसोरेन्स फ्रॉड से कैसे बचे।


 तो चलिए आज हम इसके बारे में भी जान ले, इन्स्योरेन्स  फ्रॉड क्या है और इन्स्योरेन्स फ्रॉड से कैसे बचे।

क्या है इंश्योरेंस  ?
इंश्योरेंस एक ऐसी व्यवस्था जिसके द्वारा व्यक्ति अपने जीवन को इस प्रकार सुरक्षित करता है यदि उसके साथ कोई आकस्मिक गुर्घटना घटती है, तो उसको आर्थिक दिक्कतों का सामना न करना पड़े। इंश्योरेंस जोखिमों से बचाव करता है।
हर व्यक्ति को अपने जीवन का पता नहीं कल उसके साथ क्या हो जाये, तो ऐसे में इंश्योरेंस के द्वारा वह व्यक्ति अपने जीवन को सुरक्षित करता है,  ताकि यदि कोई भी दुर्घटना उसके साथ घटती है, तो वह इंश्योरेंस कंपनी से दावा करके उस दुर्घटना से हुई क्षति की पूर्ति कर सके।  कुछ दुर्घटनाएँ ऐसी होती है जिनकी पूर्ति संभव नहीं हो पाती, लेकिन परिवार वालो को कुछ आर्थिक मदद हो जाती है।
इंश्योरेंस कंपनी के अपने कुछ नियम होते है, उन नियम का पालन करना हर बीमित व्यक्ति का कर्तव्य होता है, यदि वे बिमा के किसी भी नियम का उल्लंघन करते है, तो बिमा कंपनी  मुआवजा देने से मना कर सकती है।

 इश्योरेंस फ्रॉड क्या है ?
आज कल हर व्यक्ति अपना और अपनी संपत्ति का बिमा करवाता है, ताकि यदि कोई दुर्घटना हो तो ऐसे में उसकी भरपाई की जा सके, उसके लिए बीमित व्यक्तियों और बीमित सम्पत्तियों के लिए व  एक राशि दी जाती है, जिसको बिमा के शब्दों में प्रीमियम कहा जाता है।  यह प्रीमियम मासिक, तिमाही या सलाना दी जा सकती है। आप अपनी कमाई का कुछ हिस्सा बिमा में लगाते है ताकि आपको कुछ आर्थिक साहयता मिल सके, लेकिन  ऐसे में आपके पास  एक फेक कॉल अति है, जो की वह व्यक्ति अपने को बिमा कंपनी का एजेंट या अधिकारी बता कर आपसे आपकी बिमा पॉलिसी की जानकरी ले लेता है, तो आप समझ जाइये  की वह फेक कॉल है।

हम आज आपको विभिन्न प्रकार की फेक कॉल के बारे में बताने जा रहे ,जो की नकली इंश्योरेंस कंपनी के एजेंट बन कर विभिन्न प्रकार का प्रलोभन देकर आपको अपने जाल में फ़साने की प्रयास करते है। अगर आप के पास भी ऐसी फेक कॉल आये तो आप उसको तुरंत काट दे। 
  1. यह कॉल LIC सेवा शाखा से है, जिसमे आपको व्यक्ति यह कहता है की बेहतर रिटर्न के लिए मौजूदा पॉलिसी को एक नई पालिसी में कन्वर्ट कर ले या ट्रांसफर करले, तो ऐसी कॉल का जवाब न देकर उस कॉल को तुरंत काट दे।
  2. आपके खाते में unclaimed annual equity bonus है, जो अभी तक आपके द्वारा claim नहीं किया गया , जो की आपके बिमा एजेंट या सरकार को ट्रांसफर कर दिया जायेगा।  ऐसे ट्रांसफर से बचने के लिए कृपा किसी निश्चित बैंक खाते में धन जमा करदे। 
  3. यदि आपके पास ऐसी कोई काल आती है जिसमे आपसे कोई व्यक्ति यह कहता है कि , आपके बिमा एजेंट आपकी LIC पालिसी खरीदते समय ABC  कंपनी की बिमा पॉलिसी  खरीदी थी।  ABC कंपनी की नीतियों के मुताबिक लाभांश आपके एजेंट और ABC बिमा कंपनी को ट्रांसफर कर दिया जायेगा।  कृपा इस धन को अपने खाते में  ट्रांसफर करने के लिए कुछ धन जमा करे।  तो ऐसे में आपको यह कॉल तुरंत काट देना है।  
  4. आपके पास एक फेक कॉल आती है जिसमे व्यक्ति बिमा कंपनी का एजेंट होने का दावा  करता है और आपसे कहता है की आप हमारी कंपनी के एक Loyal customer और loyal bonus  के हकदार है।  यह बोनस आपके कोड के बजाय एजेंट के कोड में ट्रांसफर कर दिया है , कृपा आप अपने पालिसी की जानकारी दे ताकि ये loyal बोनस आपके खाते  में ट्रांसफर किया जा सके। आपको ऐसी किसी भी कॉल का जवाब नहीं देना है और फ़ोन कॉल को तुरंत काट देना है।  
  5.   आपके पास कॉल आती है जिसमे व्यक्ति आपसे आपकी insurance policy verificationके लिए insurance पालिसी  की जानकारी मांगता है, और यह कहता है की यदि आप जानकारी नहीं देते है तो आपके भुगतान और पेंशन को ब्लॉक कर दिया जायेगा। तो ऐसे में आपको उसकी ऐसी धमकी से डरने की जरुरत नहीं और कॉल को तुरंत समाप्त कर दे।  
  6. आपके पास कॉल आती है जिसमे व्यक्ति बिमा कंपनी का एजेंट होने का दावा करता है और  Insurance policy verify करने के लिए आपसे आपके बैंक खाते, पैन कार्ड या आधार कार्ड की जानकारी मांगता है , तो ऐसी कॉल को काट दे। 
  7. आपको एक काल आती है जिसमे व्यक्ति बिमा कंपनी का एजेंट होने का दावा करता है और यह कहता है की क्या आप bonus cancellation के लिए कोई आपत्ति उठाना चाहते है. यदि आप कोई आपत्ति नहीं उठाते है , तो ऐसे में आपके द्वारा अर्जित बोनस का 40% एजेंट और 60 % आपके स्थानीय शाखा को ट्रांसफर कर दिया जायेगा। ऐसे ट्रांसफर से बचने के लिए आपको पैन कार्ड, आधार कार्ड संख्या के साथ 25,000 रुपया इस खाते में जमा करना होगा। ऐसे काल आने पर आप काल को काट दे और कोई प्रतिक्रिया न करे। 
  8. आपके पास कॉल आती है जिमसे व्यक्ति अपने को बिमा कंपनी का एजेंट बता कर आपको यह जानकारी देता है की जब आपके एजेंट ने आपको पॉलिसी  बेचीं थी, तो उसने आपके प्रीमियम से बहुत सा बोनस और कमीशन कमाया है , लेकिन में आपके इस धन को आपको वापस दिला सकता हु उसके लिए आपको एक नयी पॉलिसी  लेनी होगी।  ऐसे कॉल का जवाब न दे। 
  9. आपके पास कॉल आती है जिसमे व्यक्ति अपने को बिमा कंपनी का अधिकारी बताते हुए आपसे कहता है कि आपने जो LIC  पॉलिसी  ली थी उसमे आपको बोनस मिला है और उस बोनस की प्राप्ति के लिए आपको पहले निवेश करना होगा और आज आखिरी तारीख है।  ऐसे कॉल का जवाब न दे। 
  10. किसी व्यक्ति द्वारा आपने को बिमा एजेंट बता कर आपसे यया कहता है की आपने जो हाल ही में LIC पालिसी ली थी उसमे एक गलती हो गयी है और गलती हो सुधारने के लिए आपको 15, 0000 रुपया जमा करना होगा , तो ऐसी किसी भी कॉल का जवाब न दे। 

ऐसी किसी भी कॉल का जवाब और प्रतिक्रिया न करे जिसमे आपको कोई व्यक्ति कॉल करता है और अपने को बिमा कंपनी का एजेंट बताता है और आपसे पॉलिसी को लेकर किसी भी तरह की बात करता है, तो आप ऐसी किसी भी कॉल का न कोई जवाब दे और न ही कोई प्रतिक्रिया करे।  यह एक फेक कॉल हो सकती है और आप साइबर हमले के शिकार हो सकते है।  


सावधानिया और उपाए।  
  1. यदि आपके पास कोई व्यक्ति कॉल करता है और अपने को बिमा कंपनी का एजेंट या अधिकारी बताता है और आपसे आपकी पॉलिसी , बैंक खाते , पैन कार्ड, आधार कार्ड की जानकारी मांगता है, तो आप वह कॉल तुरंत काट दे।  
  2. यदि आपके पास कॉल आती है जिसमे आपसे बोनस या ट्रांफर  संबधित कोई जिक्र किया जाता है , तो अपनी बिमा कंपनी से संपर्क करे। 
  3. हमेसा चेक, डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड द्वारा ही भुगतान करे, क्योकि चेक और कार्ड भुगतान आमतौर पर पता लगाया जा सकता है। 











इन्स्योरेन्स फ्रॉड क्या है और इंसोरेन्स फ्रॉड से कैसे बचे। इन्स्योरेन्स फ्रॉड क्या है और इंसोरेन्स फ्रॉड से कैसे बचे। Reviewed by Lawyer guruji on July 14, 2018 Rating: 5

No comments:

Thanks for reading my article .

Powered by Blogger.