हुमसे जुड़े subscribe करे हमारे youtube channel को

lawyerguruji

Baccho ke liye cyber safety tips and advice-cyber safety tips and advice for your children

या www.lawyerguruji.com 

नमस्कार मित्रों,
आज के इस लेख में आप सभी को यह बताने जा रहा हु कि अपने बच्चों को साइबर क्राइम के शिकार होने से कैसे बचाये उसके लिए कुछ साइबर सेफ्टी टिप्स जो की प्रत्येक बच्चो और उनके माँ बाप को मालूम होनी चाहिए।  

बच्चें हो या माता पिता आज कल सभी कंप्यूटर और मोबाइल पर इंटरनेट का उपयोग कर रहे है लेकिन उनको अभी साइबर सेफ्टी टिप्स के बारे में इतनी जानकारी नहीं है। जिसकी वजह से साइबर क्राइम के शिकार हो सकते है।  साइबर अपराधी इतने शातिर होते है कि ये किसी न किसी तैरके से आपकी जानकारी कही न कहीं से निकाल ही लेते है , ये ऐसे प्रोग्राम बनाते है जिसकी मदद  कंप्यूटर या मोबाइल को हैक कर उसमे मौजूद किसी की डाटा की चोरी कर सकते या उसमे से कुछ मिटा सकते है या कुछ भी छेड़खाड़ कर सकते या अन्य कोई अपराध। 

Baccho ke liye Cyber safety Tips and Advice.(Cyber safety tips and Advice for your Children.)

बच्चों के लिए साइबर स्फेटी टिप्स और सलाह Cyber safety Tip and Advice for your Children.

1.व्यक्तिगत जानकारी किसी को भी न दे : आज कल एक बच्चा सोशल नेटवर्किंग प्लेटफार्म का उपयोग कर रहा है और हर एक बच्चे ने हर एक सोशल नेटवर्किंग प्लेटफार्म का अपना निजी अकाउंट बना रखा है। लेकिन सॉइल नेटवर्किंग प्लेटफार्म का सावधानी पूर्वक उपयोग कैसे करना है इसका थोड़ा सा भी ज्ञान नहीं है।  

बच्चो को इस बात का खास ध्यान देना चाहिए कि किसी भी सोशल नेटवर्किंग प्लेटफार्म जैसे  Facebook, Twitter, Whatsapp, Instagram, Blog, Chat-room etc, इन सभी सोशल नेटवर्किंग साइट पर अपनी निजी जानकारी किसी भी व्यक्ति के साझा न करे। जैसे की :-
  1. घर का पता,
  2. फ़ोन नंबर,
  3. जन्म तिथि,
  4. अन्य निजी जानकारी किसी अनजान व्यक्ति को बिलकुल न दे।  
2.अनचाहे संदेश का जवाब न दे : हर उस एक बच्चे को इस बात का ध्यान रखना चाहिए जो सॉइल नेटवर्किंग पलटफॉर्म का उपयोग एक मित्र से दूसरे मित्र को सन्देश भेज कर बात चीत करते है। लेकिन ऐसे में किसी अनजान व्यक्ति का या ऐसा अनचाहा सन्देश प्राप्त हो जिसके बारे में आपको यह न मालूम हो किसने भेजा है तो ऐसे अनचाहे संदेशों का जवाब बिलकुल न दे। या ऐसे सन्देश जिसमे आपको धमकी दी जा रही या ब्लैकमेल के उद्देश्य से कोई ऐसा सन्देश भेज कर आपको डराया या धमकाया जा रहा है तो ऐसे संदेशों का जवाब बिकुल न दे।  ऐसे सन्देश का स्क्रीनशॉट लेकर अपने माता पिता को इसकी जानकारी तुरंत दे। माता पिता को ऐसी जानकारी होने पर तुरंत पुलिस को सूचित करे ताकि पुलिस द्वारा उचित कार्यवाही की जा सके। 

3.अपना पासवर्ड शेयर न करे: इस बात का ध्यान हर एक बच्चे को रखना चाहिए कि वे अपने सोशल नेटवर्किंग प्लेटफार्म जैसे कि Facebook, Twitter, Instagram, Blog, Chat-room अन्य इन सभी के पासवर्ड किसी दूसरे अन्य व्यक्ति, मित्र, या अनजान किसी भी व्यक्ति के साथ शेयर न करे। यह सबसे अधिक महत्वपूर्ण सेफ्टी होती है, जो की आपको साइबर शिकार होने से सुरक्षा प्रदान करती है। क्योकि कई ऐसी वेबसाइट है तो ड्यूल ऑथेंटिकेशन जैसे फीचर अपनी साइट के उपयोगकर्ता को प्रदान कर रही है।  जो की सुरक्षा की नजर में आवश्यक है।

4.माता पिता से सलाह करे : यदि आपके पास कोई ऐसा Message, Post, Email, Chats सोशल नेटवर्किंग प्लेटफार्म या आपके निजी मोबाइलक के इनबॉक्स में आता है जिसके कारण आपको बैचेनी होती है तो ऐसे में तुरंत पाने माता पिता से संपर्क करे और उनको इसके बारे में बताये। ऐसे बिलकुल न सोचे की अगर बताया तो डाट या मार न पड़ जाये। डरे बिलकुल भी नहीं क्योकि आपको आपके माता पिता से बेहतर कोई और समझ नहीं सकता। 

5. पासवर्ड मजबूत बनाये : यहाँ पर में बच्चों के साथ साथ उस हर एक व्यक्ति को यह सलाह और साइबर टिप्स दूंगा कि आप सबहि लोग जैसी भी सॉइल नेटवर्किंग प्लेटफार्म का उपयोग करते है उसका पासवर्ड मजबूत ही बनाये जो की आसानी से अंदाजा न जा सके।  कभी भी पसवर्ड साधारण न बनाये जैसे कि 1234 और ABCD क्योकि इस तरह के पासवर्ड साइबर अपराधी द्वारा आसानी से अंदाजे जा सकते है।  
इस तरह के पासवर्ड बिलकुल न बनाये :-
  1. अपना नाम,
  2. जन्मतिथि ,
  3. पता,
  4. अन्य साधारण पासवर्ड बिलकुल ही न बनाये।  
पासवर्ड हमेसा अल्फा न्यूमेरिक सिंबल और सुपरविज़न जैसे वर्ड का उपयोग करे। 

6.इंटरनेट की जानकारी हमेसा सही नहीं होती : आजकल इंटरनेट पर हर एक कोई न कोई जानकारी खोजा करते है। पर उसको इस बात का भी ध्यान देना होगा कि इंटरनेट पर मौजूद हर एक जानकारी सही व् विश्वसनीय नहीं होती है।  एक बार अपने बड़े या किसी जानकार व्यक्ति से उस जानकारी के बारे में अवश्य पूछे। 
  
7. अनजान व्यक्ति को मित्र लिस्ट में ऐड न करे : सोशल नेटर्किंग प्लेटफार्म का उपयोग करने वाले हर उस एक बच्चे को इस बात का ध्यान रखना होगा कि किसी अनजान व्यक्ति की फ्रेंड रिक्वेस्ट आने पर उसको ऐड न करे. बल्कि उसकी रिक्वेस्ट को डिलीट करे व् उसको ब्लॉक करे। ऐसा करने से न तो आपको सन्देश भेज सकता है न और ही आपको दुबारा फ्रेंड रिक्वेस्ट ही भेज सकता है। 

8.Signup न करे : आपको इस बात का भी बहुत ध्यान देना होगा कि आप उन वेबसाइट पर साइन उप नहीं करेंगे जो की पंजीकरण के दौरान एक निश्चित उम्र की डिमांड करते है।  जैसे की आप 18 प्लस है की नहीं यदि हाँ या नहीं पर टिक करे।अगर ऐसे साइट पर आप पंजीकरण करते है तो इन साईट पर आपको अनुचित सामग्री या अनुचित चित्र या ने अनुचित जानकारी प्राप्त हो सकती है।  यही सब बड़ी चाल साइबर अपराधियों की होती है। 

9. ऑनलाइन खरीदारी के समय अपने माता पिता से अवश्य सलाह ले और उनकी नजरो के सामने रहे।  
अब इस इंटरनेट के युग में हर एक चीज ऑनलाइन हो गयी यहाँ तक खाना मगाने से लेकर कपड़ो तक। हर चीज घर बैठे ऑनलाइन आर्डर कर मंगवाई जा सकती है। ऑनलाइन शॉपिंग करते समय ध्यान रखने वाली बात यह है कि जब भी ऑनलाइन कोई भी समाज बुक करे तो :-
  1. उस शॉपिंग कंपनी की अधिकृत वेबसाइट से ही ऑनलाइन आर्डर करे। 
  2. बिलिंग करने से पहले यह सुनिश्चित कर ले की जो राशि सामग्री की है उतना ही भुगतान के लिए मांग रहा है या अधिक। 
  3. कभी भी अपने बैंक खाते, डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड और नेटबैंकिंग सम्बंधित कोई जानकारी सेव न करे। 
  4. छूट के लालच में आकर किसी अनजान वेबसाइट से शॉपिंग न करे। 
10.स्वयं जागरूक बने : साइबर शिकार से बचने के लिए आपको स्वयं जागरूक होना पड़ेगा। क्योकि आपकी जागरूकता ही आपको इन साइबर अपराधों से बचा सकती है।आपको उन बातों का ध्यान रखना है कि इस इंटरनेट की दुनिया में क्या सही है और क्या गलत है। 
  1. सोशल नेटवर्किंग प्लेटफार्म का उपयोग करते समय आपको ध्यान रखना है कौन सी जानकारी डालनी है या नहीं और कौन सी जानकारी नहीं देनी अन्य। 
  2. बैंक, डेबिट-क्रेडिट कार्ड और नेटबैंकिंग पासवर्ड किसी को नहीं बताना है। 
  3. इंटरनेट का उपयोग सावधानी से करे। 
  4. ऑनलाइन खरीदारी करते समय स्फेटी टिप्स का ध्यान रखे। 
  5. अन्य स्फेटी टिप्स जो आपको साइबर अपराध से बचाएं।

कोई टिप्पणी नहीं:

lawyer guruji ब्लॉग में आने के लिए और यहाँ पर दिए गए लेख को पढ़ने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपके मन किसी भी प्रकार उचित सवाल है जिसका आप जवाब जानना चाह रहे है, तो यह आप कमेंट बॉक्स में लिख कर पूछ सकते है।

नोट:- लिंक, यूआरएल और आदि साझा करने के लिए ही टिप्पणी न करें।

Blogger द्वारा संचालित.