lawyerguruji

ई-स्टाम्प पेपर क्या है और कहाँ -कहाँ इसका उपयोग होता है ?

www.lawyerguruji.com

नमस्कार मित्रो,
आज के इस लेख में आप सभी को " ई- स्टाम्प पेपर क्या है व् कहाँ -कहाँ इसका उपयोग होता है ? " इसके सम्बन्ध में सम्पूर्ण जानकारी बनाते वाला हु। ई स्टाम्प पेपर राज्य सरकार द्वारा जारी की गयी एक अतिरिक्त सुविधा जो लोगो की सुविधा के लिए ही चालू की गयी है। इस सुविधा से लोगो को स्टाम्प पेपर के लिए इंतजार नहीं करना होगा, जैसा कि ऑफलाइन स्टाम्प पेपर लेने में करना पड़ता है। ई-स्टाम्प पेपर को लेकर आपके मन कई सवाल भी उठ रहे होंगे जैसे कि:-
  1. ई-स्टाम्प पेपर क्या है। 
  2. ई-स्टाम्प पेपर कहाँ से ख़रीदे ?
  3. ई-स्टाम्प पेपर लेते समय क्या विवरण देना होगा ?
  4. ई-स्टाम्प पेपर कहाँ कहाँ उपयोग में लाया जा सकता है ?
ई-स्टाम्प पेपर क्या है और कहाँ -कहाँ इसका उपयोग होता है ? what is e-stamp paper and use of e-stamp paper


ई-स्टाम्प पेपर क्या है ?
ई-स्टाम्प पेपर ऑनलाइन ट्रेज़री ऑफिस से या सरकार द्वारा अधिकृत लाइसेंस धारक वेंडर के जरिये प्रिंट आउट कर दिया जाता है। ई-स्टाम्प पेपर राज्य सरकार द्वारा विशिष्ट मूल्य के राजस्व स्टाम्प होते है। ई- स्टाम्प पेपर की बिक्री के लिए सरकार ने स्टॉक होल्डिंग कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया लिमिटेड के साथ भागीदारी कर ई -स्टमप योजना को लागु किया है। इसके माध्यम से व्यक्ति अब ऑनलाइन printed स्टाम्प पेपर खरीद सकता है साथ में स्टाम्प ड्यूटी का ऑनलाइन भुगतान भी कर सकता है। ई- स्टाम्प पेपर लोगो के लिए एक अतिरिक्त सुविधा के रूप में प्रदान की गयी है। 
 
ई-स्टाम्प पेपर कहाँ से ख़रीदे ?
ई-स्टाम्प पेपर की बिक्री के लिए राज्य सरकार द्वारा निम्न लोगो को अधिकृत किया गया है जो कि:-
  1.  ट्रेज़री ऑफिस,
  2. सरकार द्वारा अधिकृत लाइसेंस धारक वेंडर। 
ई-स्टाम्प पेपर लेते समय क्या विवरण देना होगा ?
ई-स्टाम्प पेपर लेते समय आपको निम्न विवरण देना होगा जो कि उसी के आधार पर ई- स्टाम्प पेपर जारी होगा।यही आपको प्रिंट आउट कर एक खास प्रकार के कागज में प्रिंट कर दिया जायेगा, जिसपर देने वाले अधिकृत वेंडर वेंडर की मुहर लगी होगी। 
  1. -खरीदने वाले का नाम,
  2. किस आशय ले लिया जा रहा है,
  3. पहले पक्ष व् दूसरे पक्ष का नाम,
  4. कितने मूल्य वाला स्टाम्प पेपर लेना है।  
ई- स्टाम्प पेपर किस किस कार्य के लिए लिया जा सकता है ?
  1. ऋण की प्राप्ति के लिए,
  2. प्रशासन बंधन के लिए ,
  3. गोद लेने के लिए,
  4. शपथ के लिए,
  5. समझौते या समझौते के ज्ञापन के लिए,
  6. विलेख जमा करने के सम्बन्ध में, बंधक के लिए, गिरवी के लिए,
  7. अधिकार के निष्पादन में नियुक्ति के लिए,
  8. मूल्यांकन के लिए,
  9. ऍप्रेन्टिसशिप डीड के लिए,
  10. आर्टिकल ऑफ़ एसोसिएशन ऑफ़ कंपनी के लिए,
  11. आर्टिकल ऑफ़ क्लर्कशिप के लिए,
  12. अवार्ड के लिए,
  13. बैंक गारंटी के लिए,
  14. बिल ऑफ़ एक्सचेंज के लिए,
  15. बांड के लिए,
  16. बोटमरि बांड के लिए, 
  17. कैंसलेशन के लिए,
  18. सर्टिफिकेट ऑफ़ एनरोलमेंट अंडर सेक्शन 22 ऑफ़ द एडवोकेट एक्ट 1961,
  19. सर्टिफिकेट ऑफ़ प्रैक्टिस अस नोटरी के लिए,
  20. सर्टिफिकेट ऑफ़ सेल के लिए ,
  21. सर्टिफिकेट और अन्य दस्तावेजों के लिए,
  22. चार्टर पार्टी के लिए,
  23. कम्पोसिशन डीड के लिए,
  24. कवेयन्स के लिए,
  25. कॉपी और एक्सट्रेक्ट के लिए,
  26. काउंटर पार्ट और डुप्लीकेट के लिए,
  27. कस्टम बांड के लिए,
  28. डिबेंचर के लिए,
  29. डीड ऑफ़ ह्य्पोथेकेशन के लिए ,
  30. डेलिवरी आर्डर इन रेस्पेक्ट  ऑफ़ गुड के लिए ,
  31. डाइवोर्स के लिए ,
  32. एक्सचेंज ऑफ़ प्रॉपर्टी के लिए,
  33. फर्दर चार्ज के लिए,
  34. जनरल लोन एग्रीमेंट के लिए,
  35. गिफ्ट के लिए,
  36. इंडेम्निटी के लिए,
  37. इंस्ट्रूमेंट करेक्टिंग  प्योरली क्लेरिकल एरर के लिए,
  38. लीज के लिए,
  39. लेटर ऑफ़ लाइसेंस के लिए,
  40. लेटर ऑफ़ अल्लोत्मेंट ऑफ़ शेयर के लिए,
  41. लाइसेंस रेलेटिंग तो आर्म्स और अम्मुनिसन के लिए,
  42. मेमोरेंडम ऑफ़ एसोसिएशन के लिए,
  43. मॉर्गेज डीड के लिए,
  44. मॉर्गेज ऑफ़ कॉर्प के लिए,
  45. नोटरीअल एक्ट के लिए,
  46. नोट ऑफ़ प्रोटेस्ट बाई मास्टर ऑफ़ शिप के लिए,
  47. नोट और मेमोरेंडम के लिए,
  48. पार्टीशन के लिए,
  49. पार्टनरशिप के लिए,
  50. पावर ऑफ़ अटॉर्नी के लिए,
  51. प्रोटेस्ट बाय थे मास्टर ऑफ़ शिप के लिए,
  52. प्रोटेस्ट ऑफ़ बिल और नोट के लिए,
  53. री-कवेयन्स ऑफ़ मोर्टगेजेड प्रॉपर्टी के के लिए,
  54. रिलीज़ के लिए,
  55. रेस्पोंडेसिआ के लिए,
  56. सिक्योरिटी बांड और मोर्टगेज डीड,
  57. सेटलमेंट -इंस्ट्रूमेंट ऑफ़ इन्क्लूडिंग ा डीड ऑफ़ डोवर,
  58. सेटलमेंट -रेवोकेशन के लिए,
  59. शेयर वारंट के लिए,
  60. शिपिंग आर्डर के लिए,
  61. सरेंडर ऑफ़ लीज के लिए,
  62. ट्रांसफर ऑफ़ लीज के लिए,
  63. ट्रस्ट -डेक्लरेशन ऑफ़ के लिए,
  64. ट्रस्ट- रेवोकेशन के लिए,
  65. वारंट ऑफ़ गुड के लिए 
उपरोक्त सभी प्रकार के कार्य के लिए ई-स्टाम्प पेपर के आवश्यकता पड़ती है, इन्ही सभी कार्यो के लिए उपयोग  लाया जा सकता है। 

ई-स्टाम्प पेपर क्या है और कहाँ -कहाँ इसका उपयोग होता है ? ई-स्टाम्प पेपर क्या है और कहाँ -कहाँ इसका उपयोग होता है ? Reviewed by Advocate Pushpesh Bajpayee on अक्तूबर 06, 2020 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

lawyer guruji ब्लॉग में आने के लिए और यहाँ पर दिए गए लेख को पढ़ने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपके मन किसी भी प्रकार उचित सवाल है जिसका आप जवाब जानना चाह रहे है, तो यह आप कमेंट बॉक्स में लिख कर पूछ सकते है।

नोट:- लिंक, यूआरएल और आदि साझा करने के लिए ही टिप्पणी न करें।

Blogger द्वारा संचालित.