lawyerguruji

स्टेट बार कौंसिल से अधिवक्ता मृत्यु बीमा दावा कैसे प्राप्त करे ? how to get advocate death insurance claim from State bar council

 www.lawyerguruji.com

नमस्कार दोस्तों,
आज का यह लेख अधिवक्ताओ के उनके परिवार वालो के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है, क्योकि आज में आप सभी को advocate death claim के बारे में बताने जा रहा हु। रजिस्टर्ड अधिवक्ता की मृत्यु हो जाने पर अधिवक्ता के परिवार के द्वारा क्लेम करने पर स्टेट बार कौंसिल द्वारा कुछ राशि दी जाती है,जो कि उनके परिवार को कुछ हद तक आर्थिक सहायता प्रदान करती है। 

इस लेख में आज आपके उन सभी सवाल का जवाब देंगे जो आपको मन में उठ रहे होंगे जैसे की :-
  1. अधिवक्ता मृत्यु दावा क्या है ?
  2. अधिवक्ता मृत्यु दावा कब मिलता है ?
  3. किस उम्र के अधिवक्ता advocate death claim के लिए योग्य है ?
  4. अधिवक्ता के परिवार वाले अधिवक्ता मृत्यु बीमा दावा कैसे प्राप्त करे ?
  5. अधिवक्ता मृत्यु दावा फॉर्म में लगने वाले आवश्यक दस्तावेज़ कौन से है ?
  6. अधिवक्ता की मृत्यु पर मिलने वाली राशि कितनी होगी ?
स्टेट बार कौंसिल से अधिवक्ता मृत्यु बीमा दावा कैसे प्राप्त करे ? how to get advocate death insurance claim from  State bar council
अधिवक्ता मृत्यु दावा क्या है ? 

अधिवक्ता मृत्यु बीमा दावा एक ऐसा दावा है जो कि स्टेट बार कौंसिल द्वारा अधिवक्ता के परिवार के द्वारा दावा करने पर उत्तर प्रदेश अधिवक्ता कल्याण निधि योजना के अंतर्गत रजिस्टर्ड अधिवकताओं की मृत्यु होने पर एक  निश्चित धन राशि आर्थिक सहायता के रूप में दी जाती है। इस राशि को पाने के लिए रजिस्टर्ड अधिवक्ताओं के परिवार के द्वारा यानी उनके उत्तराधिकारी द्वारा death claim फॉर्म भरना होगा और उस फॉर्म में मांगी जाने वाली हर एक जानकारी को मृतक अधिवक्ता के परिवार के सदस्य द्वारा स्पष्ट, पूर्ण और सत्य भरनी होगी और साथ में मांगे जाने वाले दस्तावेजों की प्रतियां भी लगानी होंगी जो की बार एसोसिएशन के अध्यक्ष / सचिव के द्वारा प्रमाणित किये जायेंगे।

अधिवक्ता मृत्यु दावा कब कर सकते है और किस उम्र के अधिवक्ता के उत्तराधिकारी इस योजना के लभ्यार्थी होंगे ?
उत्तर प्रदेश अधिवक्ता कल्याण निधि योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश बार कौंसिल में रजिस्टर्ड अधिवक्ताओ की मृत्यु होने पर उनके परिवार के सदस्य द्वारा अधिवक्ता मृत्यु दावा करने पर मृतक अधिवक्ता के परिवार को एक निश्चित राशि दी जाएगी इस राशि के लिए वही अधिवक्ता लभ्यार्थी होंगे जिनकी मृत्यु-
  1. उत्तर प्रदेश बार कौंसिल में रजिस्टर्ड वे अधिवक्ता जिनकी मृत्यु 40 वर्ष की उम्र से पहले हुई हो,उत्तर प्रदेश अधिवक्ता कल्याण निधि योजना के अंतर्गत मृतक अधिवक्ता के उत्तराधिकारी के द्वारा दावा करने पर रूपये 5,00,000 की राशि के लिए अधिकृत है,
  2. उत्तर प्रदेश बार कौंसिल में रजिस्टर्ड वे अधिवक्ता जिनकी मृत्यु 60 वर्ष की उम्र से पहले हुई हो, उत्तर प्रदेश अधिवक्ता कल्याण निधि योजना के अंतर्गत मृतक अधिवक्ता के उत्तराधिकारी के द्वारा दावा करने पर रूपये 5,00,000 की राशि के लिए अधिकृत है। 
advocate death claim  फॉर्म कहाँ से मिलेगा क्या इसको ऑनलाइन डाउनलोड भी कर सकते ?
advocate death claim form आप इन दो तरीको से पा सकते है :-
  1. Death claim form पाने के लिए आपको उत्तर प्रदेश बार कौंसिल के कार्यालय में जाकर स्वयं लेना होगा,
  2. death claim form को आप उत्तर प्रदेश बार कौंसिल की अधिकृत वेबसाइट से ऑनलाइन भी डाउनलोड कर सकते है। 
  3. जिसके लिए आपको वेबसाइट पर जाना होगा और वही से डाउनलोड करना होगा।  
स्टेट बार कौंसिल से अधिवक्ता मृत्यु बीमा दावा कैसे प्राप्त करे ? how to get advocate death insurance claim from  State bar council .




रजिस्टर्ड अधिवक्ता के परिवार वाले अधिवक्ता मृत्यु दावा फॉर्म कैसे भरे ?

उत्तर प्रदेश बार कौंसिल में रजिस्टर्ड अधिवक्ता की मृत्यु हो जाने पर उत्तर प्रदेश अधिवक्ता कल्याण निधि योजना के अंतर्गत रूपये 5,00,000 के भुगतान हेतु अधिकृत उत्तराधिकारी के द्वारा death claim form को भरना होगा और इस फॉर्म में मांगी जाने वाली हर एक जानकारी को मृतक अधिवक्ता के उत्तराधिकारी द्वारा सम्पूर्ण जानकारी को स्पष्ट और सत्य भरना होगा जैसे की:-
  1. मृतक अधिवक्ता का वह नाम जो उत्तर प्रदेश बार कौंसिल में रजिस्टर्ड अधिवक्ता के रूप में रजिस्टर्ड है। 
  2. मृतक अधिवक्ता का जो उत्तराधिकारी है वह अपना नाम स्पष्ट रूप से लिखेगा। 
  3. अधिवक्ता जिस स्थान में निवास करता था उस निवास स्थान का पता पूर्णता सपष्ट और सत्य भरा जायेगा। 
  4. अधिवक्ता जिस जिले और जनपद में वकालत करता था। 
  5.  तिथि और पंजीकरण संख्या जब अधिवक्ता उत्तर प्रदेश बार कौंसिल में पंजीकृत हुए थे। 
  6. मृतक अधिवक्ता की जन्म तिथि हाई स्कूल प्रमाण पत्र के अनुसार। 
  7. अधिवक्ता के रूप में पंजीकरण के समय मृतक अधिवक्ता की उम्र क्या थी। 
  8. मृतक अधिवक्ता की मृत्यु का समय और तिथि क्या थी। 
  9. यदि किसी रोग से पीड़ित थे तो उस रोग का नाम। 
  10. उस डॉक्टर का नमा जिससे रोग का इलाज चल रहा था। 
  11. यदि मृतक अधिवक्ता विवाहित या अविवाहित था तो विधिक उत्तराधिकारी के नाम जिनको पीछे छोड़ गए। 
  12. एकाउंट पेई का नाम जो की चेक द्वारा भुगतान किया जायेगा। 
यह सब जानकारी के भर जाने के बाद आवेदनकर्ता / प्रथम उत्तराधिकारी को अपने हस्ताक्षर करने होंगे जिसमे वह यह घोषित करता है कि उपरोक्त सूचनायें तथा लगे हुए दस्तावेज़ मेरी व्यक्तिगत जानकारी के अनुसार सत्य है एवं कोई भी तथ्य छुपाया नहीं गया है। 

अधिवक्ता मृत्यु दावा फॉर्म में लगने वाले आवश्यक दस्तावेज कौन से है ?
अधिवक्ता मृत्यु दावा मृत्यु फॉर्म के साथ जमा करने वाले आवश्यक दस्तावेजों की सूची कुछ इस प्रकार से है जैसा कि :-
  1. आवेदन पत्र,
  2. बार कौंसिल प्रमाण पत्र,
  3. विधि व्यवसायस्त बार एसोसिएशन प्रमाण पत्र,
  4. हाई स्कूल प्रमाण पत्र,
  5. मतदाता पहचान पत्र,
  6. राशन कार्ड,
  7. आधार कार्ड,
  8. ड्राइविंग लाइसेंस,
  9. मृत्यु प्रमाण पत्र,
  10. शपथ पत्र,
  11. प्रीपेड रसीद,
  12. सेविंग बैंक एकाउंट पास बुक,
  13. अन्य आवश्यक दस्तावेज जो समय पर मांगे जाये।
इन सभी की तीन फोटो कॉपी जो कि राजपत्रित अधिकारी द्वारा प्रमणित प्रतियां अध्यक्ष/ सचिव बार एसोसिएशन के द्वारा प्रमणित किये जायेंगे जिसमे वह यह प्रमणित करता है कि उपर्युक्त व्यक्तियों के हस्ताक्षर प्रमणित किये जाते है जिन्होंने ने मेरे समक्ष हस्ताक्षर किये है एवं उन्हें व्यक्तिगत रूप से जनता हु। 

 बार एसोसिएशन के अध्यक्ष / सचिव का नाम, पदनाम और मुहर लगनी आवश्यक है। 

 Advocate death claim लेख से सम्बंधित कोई बात न समझ आयी हो तो आप हमसे कमेंट कर पूछ सकते है।

अधिवक्ता की मृत्यु पर मिलने वाली राशि कितनी होगी ?
उत्तर प्रदेश बार कौंसिल में रजिस्टर्ड अधिवक्ता की मृत्यु होने पर उत्तर प्रदेश अधिवक्ता कल्याण निधि योजना के अंतर्गत मृतक अधिवक्ता के उत्तराधिकारी को रूपये 5,00,000 की राशि का भुगतान किया जायेगा और इस धनराशि के लिए वह अधिकृत है। 

34 टिप्‍पणियां:

  1. कहाँ प्रैक्टिस करते थे लखनऊ या इलाहबाद।

    जवाब देंहटाएं
  2. Agar claim 9 month ke baad bhi naa mila ho toh kahan complaint kar sakte hain

    जवाब देंहटाएं
  3. क्लेम न मिलने का कोई कारण बताया गया ।

    जवाब देंहटाएं
  4. Online death claim form ki exact site bataane ki kripa kariye aapki mahaan dayaa hogi

    जवाब देंहटाएं
  5. sir mere papa ki dear ko 11 saal ho chuke hai par hume ye death claim insurance k bare m abhi pata chala hai , parivar ki arthik istithi kharab hone k karan yehi aakhri ummed hai, to kya hum abhi bhi is insurance par claim kar sakte hai ?

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपके पिताजी जी न्यायालय में प्रैक्टिस कर रहे थे आप उसी न्यायालय की अधिवक्ता बार के अध्यक्ष से बात करे ।

      हटाएं
  6. Sir
    क्या नोटरी अधिवक्ता प्रथम श्रेणी के मजिस्ट्रेट होते हैं।

    जवाब देंहटाएं
  7. उत्तर
    1. जहाँ प्रैक्टिस करते थे वहाँ की बार से संपर्क करे ।

      हटाएं
  8. उत्तर
    1. जिस न्यायालय में प्रैक्टिस करते थे उस न्यायालय की बार से सम्पर्क करें।

      हटाएं
  9. Sir 2 years ho gye form send kiye huye but abhi bhi kuch hua nahi
    Sir plz help

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. स्वयं आवेदन पत्र दाखिल किया या किसी के द्वारा ?

      हटाएं
  10. स्थानीय बार एसोशिएशन मे सदस्य ना होने पर और स्टेट बार कौसिल मे सदस
    य होनै पर क्लेम कर सकते है

    जवाब देंहटाएं
  11. Sir apply kre one year ho Gye h Abhi tak kuchh bhi pta nhi chala h .sir chhote , chhote bachhe h. Bhut dikkat ho rhi hai sir help me

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. जहां प्रैक्टिस करते थे, वहाँ की बार से संपर्क कर इसके संबंध मे सूचना दे ।

      हटाएं
  12. उत्तर
    1. फॉर्म मे मांगे गए दस्तावेजों का विवरण दिया गया है, वकालतनामा के बारे मे किससे जानकारी मिली ?

      हटाएं
    2. Banars bar se jo association k letter pad par likh kr diye uspe likha hua last 3 year ka vakalatnama bhi attach kre

      हटाएं
    3. उन मुक़दमों के वकालतनामा की नक़ल जो इनके द्वारा इन तीन सालो में लड़े गए थे । अब कितने चाहिए उनसे पूछ कर न्यायालय नक़ल विभाग से प्रमाणित नक़ल निकलवा ले ।

      हटाएं
    4. Agar unka koe mukdma n ho to last 3 year ka

      हटाएं
    5. ऐसे कैसे हो सकता है यदि वकालत करते थे ।

      हटाएं
    6. अपने बार से बात करे व बीमारी के चिकिस्ता दस्तावेज दाखिल करें।

      हटाएं
  13. Sir mere father ka COP no nhi mil rha h registration no to h COP no lene k liye kya krna hoga usko bhi form k sath manga ja rha h

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. 2010 के पहले का पंजीकरण है तो बार काउन्सिल के कार्यालय में आवेदन करो ।

      हटाएं
  14. aajivan sadasy wale advocate ko yearly paisa jma krna hota h ki nhi death claim k liye

    जवाब देंहटाएं
  15. 2001 ke vakeel ki mratyu 2021 me corona se cop number na hone par adhivakta ke parivaar ke dvara dava kiya ja sakta hai aur bina cop number kya claim milega

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. प्रैक्टिस करते थे ? या अधिक जानकारी के बार से संपर्क करो ।

      हटाएं

lawyer guruji ब्लॉग में आने के लिए और यहाँ पर दिए गए लेख को पढ़ने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपके मन किसी भी प्रकार उचित सवाल है जिसका आप जवाब जानना चाह रहे है, तो यह आप कमेंट बॉक्स में लिख कर पूछ सकते है।

नोट:- लिंक, यूआरएल और आदि साझा करने के लिए ही टिप्पणी न करें।

Blogger द्वारा संचालित.